Thursday, 28 November 2013

कुछ पलों की यादें हैं ! कुछ पल ही वादें हैं !!

कुछ जन्मों की कहानी है
कुछ जन्मों की वीरानी है !
हर सफ़र की बात है ये
"तन्हा" उम्र बितानी है  !!

कुछ सदियों का रोना है
कुछ सदियाँ ही सोना है !
अपना दिल खो ही चुके
और क्या कुछ खोना है !!

कुछ सालों का अफ़साना है
कुछ साल और बहाना है  !
अपने घर भी देखा हमने
ख़ुशियों का आना जाना है !!

कुछ घंटो की  रात है
कुछ घंटो की  बात है !
कट जायेंगे अपने गम
हमकदम जो साथ है !!

कुछ पलों की यादें हैं
कुछ पल ही वादें हैं  !
बीते हैं जो साथ तुम्हारे
अपने वो इरादें हैं  !!
            
                   - " तन्हा " चारू !!


सर्वाधिकार सुरक्षित © अम्बुज कुमार खरे  " तन्हा " चारू !!




No comments:

Post a Comment